अजमेर – आनासागर एस्कैप चैनल के मरम्मत एवं सुदृणीकरण के लिए 16.92 करोड़ जारी

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत आनासागर एस्कैप चैनल की मरम्मत एवमं सुदृणीकरण किया जाएगा। 16.92 करोड़ की लागत का कार्यादेश जारी किया जा चुका है एवं सर्वे का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। शीघ्र ही आनासागर एस्कैप चैनल के सुदृणीकरण का कार्य साइट पर आरंभ हो जाएगा। इसके तहत करीब 5 किलोमीटर लंबाई में आठ कलवर्ट बनाई जाएंगी एवं ब्रह्मपुरी में 277 मीटर में एक बॉक्स ड्रेन बनाई जाएगी।

जिला कलक्टर एवं अजमेर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रकाश राजपुरोहित और नगर निगम आयुक्त एवं अजमेर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. खुशाल यादव के निर्देशन में कार्य योजना तैयार की गई है। आनासागर स्कैप चैनल पर स्लज क्लीयरेंस का कार्य आरंभ हो गया है। एस्कैप चैनल की दोनों और की दीवारों की मरम्मत में गुनाइटिंग का प्रावधान लिया गया है। इसमें जहां कही भी दीवार में क्रेक और टूटफूट है वहां पर बहुत प्रेशर मशीन से सीमेंट को लिक्विड फार्म में भरा जाएगा। जिससे दीवार में टूटफूट को भर देंगे। इसी प्रकार महादेव ढावे के आगे नया आरसीसी का नया बेड बनाया जाएगा जो कि बहुत ही मजबूत होगा।

छोटी ड्रेन का होगा निर्माण

एस्कैप चैनल में ड्राय वेदर फ्लो के लिए केंद्र में छोटी ड्रेन का निर्माण किया जाएगा। जिसमें बरसात के अलावा अन्य मौसम में एस्कैप् चैन्ल में पानी की आवक कम होती है। इसके लिए यह प्रावधान रखा गया है। जिससे पानी की निकासी के साथ उसकी नियमित साफ सफाई सुगमता से हो सकेगी। एस्केप चैनल की सफाई के लिए वर्तमान में सफाई के दौरान जगह-जगह से दीवारों को तोड़ा जाता है एवं वहां से पोकलेन मशीन नाले में उतारी जाती है हर वर्ष दीवार को पुनः बनाने में करीब एक करोड़ रुपए खर्च होते है इस समस्या के समाधान के लिए इस 5 किलोमीटर लंबाई में 10 स्थानों पर रैंप का निर्माण किया जाएगा इस रैंप के माध्यम से हाइड्रोलिक क्रॉलर मशीन जो स्मार्ट सिटी द्वारा नगर निगम को उपलब्ध कराई गई है वह आसानी से उतर सकेगी एवं नाले की सफाई सुगमता से हो सकेगी एवं दीवारों को बार-बार नहीं तोड़ना पड़ेगा

बनाई जाएंगी पांच कलवर्ट

एस्कैप चैनल पर 18 मीटर स्पान के पांच कलवर्ट का प्रावधान रखा गया है। प्रमुख रूप से नगरा क्षेत्र एवं पटेल नगर में दो-दो और ब्रह्मपुरी में एक कलवर्ट का निर्माण किया जाएगा। कलवर्ट के रिटेनिंग वॉल पर सुरक्षा के लिए रिटेनिंग वॉल के साथ रैलिंग का प्रावधान रखा गया है।

बरसात के दौरान भरने वाले पानी से मिलेगा छुटकारा

इसी प्रकार शॉर्ट स्पान के लिए दस कलवर्ट का निर्माण कार्य भी किया जाएगा। जिसमेंसबसे लंबा 277 मीटर बॉक्स ड्रेन बनाकर पानी की निकासी की क्षमता में वृद्धि की जाएगी। इसके निर्माण में निचली बस्तियों में बरसात के दौरान भरने वाले पानी से छुटकारा मिलेगा। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में एस्कैप् चैनल में कई जगहों पर बॉटल नेकिंग (सकरा नाला) है । वहां पर फ्लो अवरूद्ध होता है जिसके कारण पानी ओवर फ्लो होकर सड़क पर आ जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!